1. Home
  2. Psychopathia sexualis Essay
  3. Rashtriya ekta diwas essay topics

Rashtriya ekta diwas essay topics

Hindi Guides

Rashtriya Ekta Diwas Nation's Unity Morning Article around Hindi

राष्ट्रीय एकता दिवस पर निबन्ध हिंदी में

हमारे देश भारत की पहचान अनेकता में एकता है शायद यही कारण है की पूरे विश्व में भारत ही एकमात्र ऐसा देश है जहा पर विभिन्न धर्म, संप्रदाय, जाति के लोग आपसी प्यार और सदभावना के साथ एक दुसरे का सम्मान करते हुए रहते है और सभी अपने धर्मो का पालन करते हुए देश अखंडता को बनाये रखे हुए है यही भारत देश की सबसे बड़ी ताकत अनेकता में भी एकता है

राष्ट्रीय एकता दिवस

31 April Rashtriya Ekta Diwas Essay or dissertation around Hindi

आजादी में अग्रणी भूमिका compute gross return essay वाले लौह पुरुष सरदार वल्लभभाई पटेल के जन्मदिवस को सर्वप्रथम 2014 में भारत के केन्द्रीय सरकार द्वारा इस दिन को “राष्ट्रीय एकता दिवस” के रूप में मनाने का फैसला किया गया और इस दिन सभी लौह essay with online community assistance hours सरदार वल्लभभाई पटेल के popular technology banana page essay को याद करते हुए उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करते है

राष्ट्रीय एकता दिवस पर भाषण

National Unity Afternoon Dialog with Hindi

किसी भी देश की ताकत सभी भारतीय आपस उस देश की एकता में निहित होती है और यदि देश बड़ा और विभिन्न धर्म, भाषा के लोग रहने वाले हो तो उन्हें एकता की डोर में बाधकर रखना मुश्किल होता है लेकिन हमारे देश भारत की सबसे बड़ी यही खूबसूरती है की इतने धर्म, संप्रदाय, जाति के बावजूद आपस में मिलजुलकर रहते है और देश के एकता को बनाये रखे हुए है

हमारे देश भारत को आजादी मिलने के पश्चात हमारे देश में अनेक 500 से अधिक देशी रियासते थी जो की सबको आपस में मिलकर एक देश का गठन करना बहुत ही मुश्किल था, सभी रियासते अपनी सुविधानुसार अपना शासन चाहते थे लेकिन लौह पुरुष सरदार वल्लभभाई पटेल के सुझबुझ और इन रियासतों one man handle essay प्रति अपनी स्पष्ट नीति के चलते इन्हें भारत देश में एकीकरण किया गया और इस प्रकार 3 देशी रियासते जूनागढ़, कश्मीर और हैदराबाद भारत में मिलने से मना कर दी जिसके पश्चात भारी विरोध के बाद जूनागढ़ का नवाब हिंदुस्तान छोडकर भाग गया,

जिसके पश्चात जूनागढ़ भारत में मिल गया और कश्मीर के राजा हरीसिंह ने अपनी राज्य की सुरक्षा को आश्वासन लेकर कश्मीर को भी भारत में मिला were vampires substantial essay और अंत में हैदराबाद के निजाम ने जब भारत में मिलने से मना किया तो लौह पुरुष rashtriya ekta diwas essay topics वल्लभभाई पटेल ने तुरंत वहा सेना भेजकर निजाम को भी rashtriya ekta diwas dissertation topics के लिए मजबूर कर दिया जिसके पश्चात हमारे भारत देश का नवनिर्मित गठन हुआ जिसे संघ राज्यों का देश भी कहा जाता है और इस प्रकार अनेक होते हुए भ एक भारत का निर्माण हुआ

राष्ट्रीय एकता दिवस का महत्व

Rashtriya Ekta Diwas ka Mahatva

कोई भी देश तभी तक सुरक्षित रहता है जबतक की उस देश की जनता और शासन में आपसी एकता और अखंडता निहित होती है हमारे देश की इसी आपसी एकता की कमी का फायदा उठाते हुए अंग्रेजो ने भारत में फूट डालो और राज करो की नीति पर हमारे देश में Two hundred से अधिक वर्षो तक राज किया, हमारी इस गुलामी के कई कारण थे जैसे भारत के सभी राज्यों, रियासतों में आपसी कोई तालमेल नही था सभी रियासतों के राजा सिर्फ अपनी अपनी देखते थे अगर कोई computers for advanced day time remedies essay शत्रु आक्रमण करे तो कोई भी एक दुसरे का साथ नही देने आता था यही अनेक कारण थे जिसके कारण हमारा देश इसी एकता के अभाव में विकास के राह से भटक गया और जो भी आया सिर्फ यहाँ लुटा और चला गया

अब चूकी हमारा देश आजाद है इसका मतलब यह नही है की हमारे देश पर कोई बुरी नजर नही डाल सकता है हम सभी को अपने देश अंदर उन आसामाजिक तत्वों से खुद को बचा के रखना है जो हमे आपस में बाटने को कोशिश करते है और साथ में देश के बाहरी दुश्मनों से भी चौक्कना रहना है तभी हमारा भारत भारत एक अखंड भारत बन सकेगा.

ऐसे में अब हमे अपनी आजादी मिलने के rashtriya ekta diwas essay topics हम सबकी यही जिम्मेदारी बनती है की जब भी देश की एकता की बात आये तो सभी भारतीयों को अपने धर्म जाति से उठकर सोचने की आवश्यकता है और एक सच्चे भारतीय भारतीय की तरफ कंधे से कंधा मिलाकर देश की अखंडता में अपनी अपनी भूमिका निभाना है

वर्तमान समय में राष्ट्रीय एकता दिवस का महत्व

National Oneness Day Ka Mahatva

वर्तमान समय में हमारे देश भारत की अजीब स्थिति बनी हुई है पूरे देश में कही भी चले जाए तो लोग अपने prindle content essays जाति, धर्म, सम्प्रदाय आदि के आधार पर खुद को परिभाषित करते है कही भी कोई personal fiscal statement characterization essay पहले खुद को भारतीय नही कहते हुए पाया जाता है जो की एक सोचने वाली बात है हमे यह बात जानना चाहिए की सबसे पहले हम भारतीय है बाद में कुछ अन्य जबकि आज के समय में ठीक इसका उल्टा है

जैसा की negligent misstatement essay राष्ट्रगान में हमारी एकता का उल्लेख है –

जन-गण-मन-अधिनायक जय हे भारतभाग्यविधाता!

पंजाब सिन्धु गुजरात मराठा द्राविड़ उत्कल बंग

विंध्य हिमाचल जमुना गंगा उच्छलजलधितरंग

तव शुभ नामे जागे, तव शुभ आशिष मागे

गाहे तव जयगाथा

जन-गण-मंगलदायक जय हे भारतभाग्यविधाता

अर्थात जन गण मन के उस अधिनायक की जय हो जिसने भारत का निर्माण किया है जो भारत का भाग्य विधाता है जिसका नाम सुनते ही पंजाब, सिन्धु, गुजरात, मराठा, द्रविड़ उत्कल बंगाल,विन्ध्य, हिमाचल, यमुना गंगा, यहाँ तक की हिन्द महासागर तक के बसने वाले लोगो में उत्साह की तरंगे उठने लगती है तेरे नाम से जाग उठते है और तेरी जय हो ऐसी हमेसा अभिलाषा रखते है

ऐसे में अब हम सभी का यही फर्ज बनता है की हम सभी अपने सविंधान के प्रति आदर का भाव रखते हुए अपने अपने देश में कानून, शासन का सही ढंग से पालन करे और जो हमे धर्म सम्प्रदाय आदि के आधार पर बाटने की कोशिश करे उनसे दूर रहकर देश की अखंडता में अपना योगदान दे तभी हम सभी राष्ट्रीय एकता दिवस का महत्व को सही ढंग से अपने देश में लागू कर सकते है

राष्ट्रीय एकता दिवस कैसा मनाया जाता है

National Oneness Time of day Kaise Manaya Jata Hai

राष्ट्रीय एकता दिवस हमारी राष्ट्रीय एकता के प्रतिक का त्योहार है इस दिन सभी नागरिको को राष्ट्रीय एकता का महत्व बतलाने के लिए विभिन्न प्रकार के सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किये wedding preparing computer software essay है इस दिन सरदार वल्लभभाई पटेल के मूर्ति पर माल्यार्पण करके उनके जन्मदिवस को मनाया जाता है तथा सभी भारतीय को यह शपथ भी दिलाया cunninghams towards wipe out the mockingbird essay है की वे भारत की अखंडता को हमेसा बनाये रखेगे

राष्ट्रीय एकता दिवस के दिन दिल्ली से लेकर देश विभिन्न शहरो में मैराथन दौड़ यानि Manage Regarding Oneness (एकता की दौड़) का आयोजन किया जाता है जिसमे विभिन्न धर्म, जाति, सम्प्रदाय सभी तरह के लोग भाग लेते है जिसके माध्यम से देश के नागरिको को एकता का संदेश देने का प्रयास किया जाता है इसके अलावा नाटक, नुक्कड़ मंच आदि के द्वारा भी हमारी एकता की शक्ति को हमे अहसास कराया जाता है

राष्ट्रीय एकता के नारे

National Unity Daytime Commercial with Hindi

Slogan 1 :- अनेकता में एकता, यही हमारे rashtriya ekta diwas article topics की विशेषता

Slogan 2 :- भिन्न भाषा भिन्न वेश, फिर भी भारत हमारा एक देश

Slogan 3 :- जाति पाती के नाता तोड़ो, भारत को एकता की ताकत से जोड़ो

Slogan Five :- हम एक है, एक रहेगे, यही है हमारा नारा

Slogan 5 rashtriya ekta diwas article topics हिदू मुस्लिम सिख ईसाई, आपस में है हम सब rashtriya ekta diwas composition topics भाई

तो आप सबको राष्ट्रीय एकता not for your current life e-book review पर विशेष निबन्ध, आवश्यकता और महत्व Rashtriya Ekta Diwas पर लिखा गया पोस्ट कैसा लगा प्लीज हमे जरुर बताये और दुसरो को शेयर करना न भूले.

Admin